Manav Sewa Yojana

National President (Manav Sewa Yojana 2018-20)

National Secretary (Manav Sewa Yojana 2018-20)

हमारा समाज एक सुसम्पन्न समाज माना जाता है। वैभव एवं समृद्धि हमारे समाज में देव-गुरु-धर्म की कृपा से अटूट है। दानशील उदारवृत्ति भी है, लेकिन यह भी सत्य है कि कर्मोदय से कई परिवार आज भी हमारे समाज में ऐसे हैं, जिनको पग-पग पर आर्थिक एवं सामाजिक असुविधाओं के बीच से गुजरना पड़ रहा है। ऐसे साधर्मी भाई-बहनों के मर्मभेदों / पक्ष को समझते हुए समाज सेवा में गहराई से जुड़े हुए है।
इस योजना के अंतर्गत जैन परिवारों को प्रतिमाह आर्थिक सहायता, अन्न, वस्त्र, दवाईयाँ, बच्चों के स्कूल ड्रेस, पुस्तकें आदि दी जा रही है। यहाँ प्रश्न उपस्थित होता है कि इतना बड़ा सेवा कार्य किस प्रकार से चल रहा है।
जैन कॉन्फ्रेंस इस योजना के तहत समाज के भामाशाहों एवं दानदाताओं से राशि एकत्र कर जरुरतमंद परिवार तक सहायता पहुंचाई जाती है। मानव सेवा योजना द्वारा साधर्मी सेवा के कार्य को निष्पाप भाव से संचालित किया जाता है।
आज हमारे समाज में संपन्नता की कोई कमीं नहीं है और सम्पन्न दानशील परिवार सहयोग करने में पीछे नहीं रहते है। हमारे जरुरतमंद साधर्मी बन्धुओं एवं बहनों की ओर उनका ध्यान आज जाता है और वे उनकी दुर्बलता, युवतियों की शादी के खर्च आदि वहन करने से भी नहीं हिचकते हैं। आज के परिप्रेक्ष्य में महंगई के जमाने में सहायता के लिहाज से यह आवश्यक भी है हम इस ओर अपना एक कदम अवश्य बढ़ाएं।
आप सभी के प्रयासों से इस योजना में जो राशि प्रतिवर्ष उदारमना दानदाताओं से प्राप्त होती है, वह इसी सेवा धर्म में विधवाओं को पेंशन, सिलाई मशीन, खाद्य सामग्री का वितरण, डायलिसिस रोजगारपूरक यंत्र, विकलांगों की सहायता, व्हील चेयर प्रदान करना, स्थान-स्थान पर विकलांग सेवा शिविर, कृत्रिम अंग वितरण और स्वास्थ्य जांच शिविर जैसे महत्वपूर्ण सेवा कार्य, नेत्र चिकित्सा शिविर आदि ऐसे ही अनेकों कार्य निष्ठापूर्वक किये जाते है। इस योजना के महत्वपूर्ण अंग है।
मानव सेवा जैन कॉन्फ्रेंस की महत्वपूर्ण सेवा योजना है। हमारी अपेक्षा है कि समाज इस वास्तविक समाज सेवा के महान कार्य पर ध्यान देकर अधिकाधिक सहायता करें, सहयोग का हाथ बढ़ाएं, और भर दीजिए अनेक विकल्प जिन्दगियों में आशा का सवेरा।
इस गौरवशाली योजना में आधार स्तम्भ बनने के लिए रुपये 51,000/- प्रमुख आधार स्तम्भ बनने के लिए रुपये 1,01,000/- तथा संरक्षक आधार स्तम्भ बनने के लिए रुपये 2,51,000 देकर आप भी कर सकते हैं, कई अंधेरी जिन्दगियों में उजाले की रोशनी। सबका सहयोग, सबका योगदान सादर आमंत्रित है। हम ऐसे दानदाताओं का परिचय हमारी लोकप्रिय पत्रिका जैन प्रकाश में फोटो सहित प्रकाशित भी करते हैं। इस मानव सेवा योजना के अंतर्गत होने वाले सेवा कार्यों के लिये भामाशाह उदार दिल मानव सेवा योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमान् रमनलालजी लुंकड़ जैन, आर. के. लुंकड़ परिवार की ओर से एक करोड़ रुपये की राशि की घोषणा की है। श्री राजकुमारजी जैन दिल्ली प्रांतीय अध्यक्ष ने भी पांच लाख रुपये की राशि मानव सेवा योजना के लिए दी है।